अंतराष्ट्रीय महिला दिवस: डॉ. शकुन्तला मिश्रा के विधि छात्रों ने महिलाओं को किया जागरुक

आयशा केस को देखते हुए डॉ. शकुन्तला मिश्रा विधि के छात्रों ने दहेज को लेकर किया जागरुक

लखनऊ: अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर डॉ. शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय के विधि संकाय की तरफ से विधिक जागरुकता कैंप का आयोजन किया गया। विधि संकाय में एलएलएम प्रथम वर्ष के छात्रों ने मंगलवार को सरोजनीनगर ब्लाक के सादुल्ला खेड़ा गांव में कैंप लगाकर लोगों को कानून के बारे में जानकारी दी। एलएलएम के छात्रों की तरफ से इस मौके पर महिला अधिकारों और उनके लिए सरकार की तरफ से चलाई जा रही योजनाओं के बारे में बताया है। इस दौरान छात्रों की तरफ से महिलाओं को महिला हिंसा से संबंधित बनाए गए कानूनों और आखिर कैसे करके हक दिलाया जा सकता है, उसके बारे में जानकारी दी गई। कॉलेज के छात्रों की तरफ से अभी हाल ही में हुए आयशा केस को देखते हुए दहेज प्रथा एक कुप्रथा के संदर्भ में ग्रामीणों को बताया। इसके अलावा महिलाओं को जरूरी कानूनों के बारे में बताया गया। आखिर कैसे करके महिलाओं द्वारा सजा दिलाई जा सकती है, इसके संबंध में विस्तार से बताया गया।

आज एलएलएम के छात्र-छात्राओं की तरफ से कहा गया कि “दहेज एक कुप्रथा है” का नाटक भी प्रस्तुत किया गया। नाट्य प्रस्तुती के जरिए छात्रों ने ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की कि आखिरकार कैसे समाज में पढ़े-लिखे लोग भी अच्छे रिश्ते की खातिर दहेज की मांग करते हैं। इसके अलावा बेटियां आखिर क्यों के बेटों से कम नहीं इसके बारे में भी छात्रों ने ग्रामीणों को बहुत ही विस्तार से कुछ उदाहरण देकर बताया गया। छात्रों की तरफ से वहां पर मौजूद महिला एवं पुरुषों को समझाने की कोशिश की गई कि आखिरकार बेटियों के साथ में किसी भी प्रकार की असमानता न की जाए। समाज में जितना हक बेटों का है तो उतना ही हक बेटियों का भी है। एलएलएम के छात्राओं पूजा, अंवतिका, अर्चिता, अनामिका, दीक्षा द्विवेदी, रिमझिम, आरती, निवेदिता की तरफ से बेटियों को बनाई गई “मैया! जनम से पहले मत मार, बाबुल! जनम से पहले मत मार…” और “ओ रही चिरैया…” गीत प्रस्तुत किए गए।

एलएलएम के छात्रों की तरफ से एक की सप्ताह में लगाए गए दूसरे विधिक जागरुकता कैंप का आयोजन विधि संकाय की एचओडी प्रो. शैफाली यादव के निर्देशन में ही सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में पहुंचें प्रो. गुलाब राय की तरफ से ग्रामीणों को विधिक संबंधित नियमों और महिला एवं पुरुष की समानता और असमानता के बारे में बताया गया। कार्यक्रम का संचालन एलएलएम छात्र प्रवेश कुमार यादव और कुंवर आशीष सिंह ने किया। ग्रामीणों को नुक्कड़ नाटक और कानूनी संबंधी जानकारी अभिषेक मिश्रा, दीक्षा द्विवेदी, आरती, अंवतिका यादव, अनामिका यादव, पूजा देवी, अर्चिता दयाल, निवेदिता सिंह, रिमझिम प्रिया, अल्फे शहर, उत्कर्ष मिश्रा, सौरभ सिंह, अरुण कुमार, नितेश दुबे, सूरज कुमार, अभिषेक साहू, विकास मौर्य, शैलेश कुमार की तरफ से दी गई। इस मौके पर विधि संकाय की तरफ से गए शिक्षक भानु प्रताप सिंह, सुष्मिता सिंह, संदीप सिंह और शागिर अहमद ने भी ग्रामीणों को कानूनी विषयों की जानकारी दी। इस मौके पर ग्राम प्रधान बृजेश यादव, चंद्रपाल सिंह, रामचंद्र, पप्पू खान सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s